Select Page
ORCHHA – मेरा पहला गंतव्य स्थल

ORCHHA – मेरा पहला गंतव्य स्थल

दोस्तों, काफी समय से रिसर्च कर रहा था की अपने सफ़र की शुरुआत कहा से करू| State तो मध्य प्रदेश Decide था लेकिन मध्य प्रदेश के कोनसे शहर में जाना है ये तय नहीं हो पा रहा था|

पहले सोचा की भोपाल से शुरुआत करू लेकिन रद्द कर दिया क्यूंकि मै एक ऐसी जगह की तलाश में था जो शहर की भीड़-भाद से दूर हो, जो ज्यादा commercialize न हो, जहा में कुछ दिन सुकून से रह सकू और अपने ब्लॉग पे काम कर सकू|

मध्य प्रदेश के बारे में Research करते हुए मुझे ऐसे ही एक छोटा से शहर ORCHHA के बारे में पता चला|

ओरछा, मध्य प्रदेश में स्तिथ एक छोटा सा शहर है जिसकी स्थापना महाराज रूद्र प्रताप सिंह द्वारा 1501 में की गयी थी| यहाँ बेहद ही खूबसूरत स्मारक तो है ही पर यहाँ की नेचुरल ब्यूटी तो कमाल की है|

क्यूंकि ये शहर मध्य परदेश के और शेहरो की तुमना में कम प्रसिद्ध है इसीलिए ये ज्यादा commercialize नहीं हुआ है|

यहाँ की सबसे ख़ास बात ये है की ये शहर बेतवा नदी के किनारे पे स्तिथ है जिससे यहाँ की ख़ूबसूरती और peaceful वाइब्स में चार चाँद लग जाते है|

मुझे lakes और rivers में swimming करना बहुत पसंद है तो यहाँ की betwa river में में घंटो तक आराम से swimming कर सकता हु|

कुल मिला के, मेरे सफ़र की शुरुआत के लिए ये एक perfect जगह है|

वहा पहुचने के बाद वहा की खूबसूरत तस्वीरे आप के साथ शेयर करूँगा| मेरे साथ बने रहिएगा|

धन्यवाद,
मनीष घुमक्कड़

Complete india Travel on a budget of Rs. 500 per day

Complete india Travel on a budget of Rs. 500 per day

दोस्तों, जैसा की आप सब जानते है कि आज से ठीक 3 दिन बाद यानि के 20 मार्च को मैं पुरे इंडिया के भ्रमड पर जाने वाला हूं।
और जैसा की मेने पहले कहा था की ये सफ़र काफी लंबा होगा तक़रीबन 6 महीने के लगभग।

So friends, इतने लबे समय तक अपने सफ़र को जरी रखने के लिए मुझे कम से कम पैसे spend करने होंगे।

मेरा इस सफ़र के दौरान जो बजट है वह है 500 रुपये एक दिन का। क्योंकिं बहुत ज्यादा समय तक घूमना है इसीलिए मेरी कोशिश यहि रहेगी को मैं कम से कम खर्च करू ताकि ज्यादा से ज्यादा समय तक अपना सफ़र जरी रख सकु।

500 रुपए per day…. कैसे?

Accomodation

Travel के दौरान जो सबसे ज्यादा खर्चीली चीज़ है वह है होटल रूम। यहाँ खर्चा बचाने के लिए मैं dormitory रूम में रुकने वाला हु जोकि लगभग 100 रुपये के आस-पास में मिल जाता है।

अगर dormitory रूम नहीं मिला तो किसी धर्मशाला वगेरह में रुकुंगा जोकि dormitory से भी सस्ती पड़ेगी लेकिन दिक्कत ये है की ये धर्मशाला वाले single बन्दे को कमरा किराये पे नहीं देते और इनके कमरे भी dormitory की तुलना में कम साफ़ रहते है।

अगर डारमेट्री या धर्मशाला किराये पे मिल जाती है तो मेरे काफी पैसे बच सकते है। अगर नहीं मिली तो फिर तो बजट बिगड़ जायेगा क्योंकि किसी भी होटल या guest हाउस का rent कम से कम 300 रुपये तो है ही।

उम्मीद है कि dormitory रूम मिल जाये। dormitory रूम का एक फायदा ये भी होगा की i will get a travel buddy.

Eating..

नाश्ते, दोपहर का खाना और रात का खाना मिला के करीबन 250 के आस पास खर्च आ जायेगा क्योंकि में ज्यादा महंगे होटल की बजाय ढाबा वगेरह पे खाना खाऊंगा जोकि 250 रुपये के आस पास में हो जायेगा।

Commuting cost

बाकि बचा एक शहर से दूसरे शहर आने जाने का किराया तो उसके लिये भी एक बहुत सस्ता तरीका है train mei unreserved general coach.
ठीक है unreserved general coach में बेहद ही ज्यादा भीड़ होती है, ढंग से खड़े रहने की भी जगह नहीं मिलती और toilet ki smell तो बहुत strong आती है।

लेकिन दोस्तों, ऐसे थके हारे सफ़र के बाद अपनी मंज़िल पे पहुचने का मजा ही कुछ और होगा। नहीं?

Local commute

Since i love walking, it’s not a problem for me. I can walk easily within the radius of 6 to 8 km. अगर 8 किलो मीटर से ज्यादा डिस्टेंस हुआ तो में लिफ्ट मांगके के जा सकता हु।

of course, इसमें थोडा समय व्यर्थ होगा क्योंकि कार वाले तो लिफ्ट बहुत कम ही देते है पर हा bikers तो mostly रुक ही जाते है।

पर अब पैसे बचाने है भाई, तो थोडा परिश्रम तो करना ही पड़ेगा।

तो सारा खर्च मिला के हो गया…..100 रुपये कमरे के, 250 रुपए खाना पानी, 100-150 किराया भाड़ा…तो कुल मिला के हो गए 500 रुपये।

So friends, इस तरह से में अपना भरत भ्रमण 500 रुपये per day के expense पे करने वाला हु।

Pretty cheap, ain’t it?

दोस्तों, आपको क्या लगता है? क्या में 500 रुपये एक दिन के बजट पे पूरा भारत भ्रमड कर पाउँगा? अपने सुझाव निचे comment box में लिखे।

10 दिन

10 दिन

दोस्तों मेरे जाने में अब 10 दिन बाकी रह गए है…अरे न न इस दुनिया से नहीं:D बल्कि 10 फिन बाद मैं अपनी ज़िन्दगी के अब तक के सबसे रोमांचक सफ़र पे जाने वाला हु ।

From norh to south to east to west. India का कोई भी कोना नहीं छोड़ूंगा । हर जगह घूम के आऊंगा।

And you know what ये जो मेरा पूरे भारत भ्रमण का प्लान है thats gonna be 6 month long. जी हा आपने सही सुना,

I m going to be travelling for six long months.

May be more than that.

थोडा सा nervous हु दोस्तों क्योंकि आज से पहले कभी भी इतने लंबे समय के लिए घूमने नहीं गया। पिछली बार जब गया था तो सिर्फ 2 महीने ही नार्थ इंडिया में रुक था।

And i had a blast that time. Initially it was bit lonely but once i get into the spirit of solo travel, i had a time of my life.

उम्मीद है की इस बार का सफ़र भी बहुत रोमांचक और अदभुत होगा।

इस ब्लॉग के जरिये में आपके साथ अपने सब experiences और pictures शेयर करता रहूँगा। इसीलए मेरे साथ बने रहिएगा।

धन्यवाद्,

मनीष कपूर

आपका स्वागत है दोस्तों

आपका स्वागत है दोस्तों

दोस्तों ,मेरे travel ब्लॉग पे आपका स्वागत है। मेरा नाम मनीष है और में फरीदबाद, इंडिया में रहता हु|

You know, हर इंसान की life में कुछ ऐसी छोटी-छोटी चीज़े होती हो जो उसे दिल से ख़ुशी देती है, जिसके बाहैं में सुनते ही उसके चेहरे पे एक मीठी सी मुस्कान आ जाती है, जिसके बारे में वो घंटो तक बिना रुके बात कर सकता है, जिसके बारे में वो घंटो तुक कहानिया सुन सकता है, जिसके बारे में वो read करता रहता है, और कभी-कभी लिखता भी रहता है|

For me that little thing is travel.
नयी नयी जगहों को explore करने से ही मुझे दिल से ख़ुशी मिलती है।Travelling is my passion. 

So जब भी समय मिलता है मै कही न कही घुमने निकल पड़ता हु| कभी अपनी family के साथ तो कभी friends के साथ तो कभी अकेले ही | Friends or Family के साथ जो ट्रिप्स लगते है वो ज्यादातर 4 या 5 दिन के ही होते है लेकिन जब में अकेले जाता हु तो एक-दो महीने लगा के ही आता हु|

And to speak the truth, मुझे ऐसे long trips जो की 2 या 3 महीने के हो उनमे ज्यादा मजा आता है |
पिछले कुछ सालो में मैंने India में बहुत सी खूबसूरत जगहों पे भ्रमण किया and I am thrilled to share my travel experiences with you through this blog.

मुझे उम्मीद है के मेरे travel experiences and stories आपको ज्यादा से ज्यादा ट्रेवल करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे और आपकी next trip plan करने में आपकी help करेंगे|

धन्यवाद,

मनीष कपूर.

%d bloggers like this: